वोट की खातिर सब बने मंदिरवादी, कह रहे बनवाएंगे मंदिर : हृदय नारायण दीक्षित

वोट की खातिर सब बने मंदिरवादी, कह रहे बनवाएंगे मंदिर : हृदय नारायण दीक्षित

जागरणसंवाददाता,उन्नाव:बांगरमऊकेएकगेस्टहाउसमेंशनिवारकोप्रबुद्धवर्गसम्मेलनकाआयोजनकियागया।सम्मेलनमेंमुख्यअतिथिविधानसभाअध्यक्षहृदयनारायणदीक्षितकहाकिहमारेआराध्यदेवीदेवताहमारेलिएवोटबैंककासाधननहींहैं।हमअपनेदेवी-देवताओंकोआदरएवंनिष्ठापूर्वकसम्मानदेतेहैं।कहाकिश्रीरामकोभगवानमाननेसेइन्कारकरनेवालेलोगजोउन्हेंकल्पनाऔरकाव्यकीबातकहकरनकारदेतेथे,अबवहलोगभीसीधेअयोध्याजाकरभगवानश्रीरामकीशरणमेंपहुंचरहेहैं।अबवोटोंकीखातिरसभीलोगमंदिरवादीबनकरमंदिरनिर्माणकीबातकहनेलगेहैं।

सम्मेलनकाआयोजनबांगरमऊविधायकश्रीकांतकटियारनेकियाथा।कार्यक्रमकीशुरुआतमेंहीविधायककटियारनेमालापहनातेहुएप्रतीकचिह्नदेकरविधानसभाध्यक्षकास्वागतकिया।सम्मेलनमेंविधानसभाध्यक्षनेकहाहमारीपार्टीकेलिएप्रबुद्धवर्गसम्मानितएवंआदरणीयहै।हमारीपार्टीकेलिएराष्ट्रवादकीभावनासबसेज्यादामहत्वपूर्णहै।इसीलिएहमारीपार्टीहीराष्ट्रवादीपार्टीकहीजातीहै।विधानसभाअध्यक्षनेकहाकिअपनाइतिहासजाननाबहुतजरूरीहै।जोलोगअपनाइतिहासभूलजातेहैं।वहपीछेचलेजातेहैं।हमारानेताविश्वकासबसेबड़ानेताबनकरउभराहै।आजसारीदुनियाहमारेदेशऔरहमारेनेताकासम्मानकररहीहै।सम्मेलनमेंविशिष्टअतिथिपूर्वराज्यमंत्रीअनुपमाजायसवालनेकहाकिभगवानरामकायहींइसीक्षेत्रमेंअपनेपुत्रोंलव-कुशसेयुद्धहुआथा।इसपवित्रधरापरआकरमैंगौरवान्वितहूं।हमारादेशबौद्धिकरहाहैऔरबुधकोमाननेवालाहै।पूर्वमंत्रीनेसीएमयोगीकीप्रशंसाकरतेहुएकहाकिसाढे़चारसालमेंहीउत्तरप्रदेशविकासकामाडलबनगयाहै।सम्मेलनकोजिलाध्यक्षअवधेशकटियार,विधानसभाप्रभारीवीरेंद्रसिंह,डाक्टरअवधेशसिंह,ज्ञानेशद्विवेदी,पुनीतगुप्ता,जिलामहामंत्रीआशीषअटलबाजपेईआदिनेभीसंबोधितकिया।सम्मेलनमेंजिलापंचायतअध्यक्षशकुनसिंह,राजीवकुमारसिंहडब्बूवसंयोजकमहेशदीक्षितमौजूदरहे।