जन्मदिवस पर महाराजा बिजली पासी की प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए

जन्मदिवस पर महाराजा बिजली पासी की प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए

संवादसूत्र,गंजमुरादाबाद:अपनादलएसकेविधानसभाकार्यालयमेंमहाराजाबिजलीपासीकीजयंतीमनाईगई।जिसमेंकार्यकर्ताओंनेउनकीप्रतिमापरश्रद्धासुमनअर्पितकिए।इसदौरानउनकेजीवनचरित्रपरप्रकाशडालागया।

जिलाध्यक्षअमरेशपटेलनेकार्यक्रममेंबतायाकिमहापराक्रमीअवधघरानेकेवीरशिरोमणिहिदूहृदयसम्राटमहाराजाबिजलीपासीकेपिताकानामनथावनदेवतथामाताकानामबिजनादेवीथा।राजपासियोंकाराजकाल945ईस्वीसे1184ईस्वीतकरहा।अंतमेंमहाराजाकाशासनकाल1150ईस्वीसे1184ईस्वीतकबहुतहीअकल्पनीयरहा।उत्तरीभारतकेलखनऊकेबिजनौरगढ़केराजाकेरूपमेंजानेजातेथे।वर्तमानमेंउत्तरप्रदेशअवधक्षेत्रहै।महाराजानेअपनीसुरक्षाकेलिए12दरवाजोंपरकिलोंकानिर्माणकराया।जनतासेराजाजयचंदकोकरदेनेसेमनाकिया।उनकेअदम्यसाहसशासनकोदेखतेहुएउसीसमयकन्नौजकेराजाजयचंदनेअवधक्षेत्रपरहमलाकरनेकीरणनीतिबनाई।कईबारहमलाकरनेकाप्रयासकियापरंतुआसपड़ोसकेमहाराजाओंकासहयोगकरनेवालेसातनपासी,देवमाती,सीतामातीआदिलोगोंकेकारणजयचंदकोपरास्तहोनापड़ताथा।जिलाउपाध्यक्षडा.राजेशपाल,विनोदकटियार,बंसीलालअर्कवंशी,कौशलगुप्तावसीरजा,बेचेलालदिवाकर,कुंवरपाल,हरिपाल,शिवमंगलसविता,विकासपटेलआदिसहितमौजूदरहे।